पति की मौत के बाद आर्थिक तंगी से परेशान थी ममता देवी


पति की मौत के बाद आर्थिक तंगी से परेशान थी ममता देवी 

सोमवार को एक ही दिन में 2 योजनाओं की मिली स्वीकृति 

अब मिलेगा विधवा पेंशन और पालनहार योजना का लाभ 


झुंझुनूं, (सुरेशसैनी)22 नवंबर। झुंझुनू जिले की चिड़ावा पंचायत समिति की ग्राम पंचायत लांबा की निवासी ममता देवी पर 1 वर्ष पूर्व दुखों का पहाड़ टूट पड़ा था, जब उनके पति आकाश मेघवाल की नासिक में मृत्यु हो गई थी। ममता और स्व. आकाश के पुत्र आर्यन (उम्र 2 वर्ष) का लालन-पालन भी संकट में चल रहा था। आर्थिक परेशानी से ममता देवी पूरी तरह टूट चुकी था। सामाजिक न्याय अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक अशफ़ाक ख़ान ने बताया कि ममता की इस हालत की जानकारी मिलने पर चिड़ावा के ब्लॉक सामाजिक सुरक्षा अधिकारी प्रियतम डांगी ने उन्हें घर से बुलवा कर उनकी स्थिति से शिविर प्रभारी संदीप चौधरी और विकास अधिकारी रणसिंह को अवगत करवाया। शिविर में उनके दस्तावेज लेकर तुरंत ही उनको विधवा पेंशन स्वीकृत की गई, वहीं पालनहार योजना का भी आवेदन स्वीकृत किया गया 1 घंटे में ही 2 योजनाओं की स्वीकृति मिलने से ममता देवी की आंखें भर आई। उन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की फोटो के साथ सेल्फी लेते हुए खुशी जाहिर की और कहा कि उनका एक ही दिन में 2 योजना स्वीकृत होने से और सहायता राशि मिलने से अब अपने बच्चे का पालन पोषण आसानी से कर सकेंगे।

टिप्पणियाँ