यूपी के सभी गांवों को भी इसी महीने से चौबीस घंटे मिलने लगेगी बिजली: योगी*

 *यूपी के सभी गांवों को भी इसी महीने से चौबीस घंटे मिलने लगेगी बिजली: योगी*


सुभाष तिवारी लखनऊ

*लखनऊ;* मुख्यमंत्री ने यह बात शुक्रवार को यहां इंदिरा प्रतिष्ठान में आयोजित प्रधानमंत्री  गतिशक्ति मास्टर प्लान नार्थ कांफ्रेंस में कही। उन्होंने कहा कि पीएम गति शक्ति इंफ्रास्टक्चर डेवलपमेंट को बढ़ाने के लिए बड़ा माध्यम बन रहा है। अभी तक जो भी इंफ्रास्टक्चर डेवलपमेंट का काम होता था वह कछुए की गति से ही चल पाता था। लेकिन यूपी सरकार ने कोरोना जैसी वैश्विक महामारी के बावजूद विकास के कार्यों को रुकने नहीं दिया।

पीएम गति शक्ति के माध्यम से ही पूर्वांचल एक्सप्रेस वे को विषम परिस्थितियों के बावजूद रिकार्ड समय में बनाने में सफलता मिली। आजादी से 2017 तक केवल डेढ़ एक्सप्रेस वे बने थे। लेकिन हमारी सरकार पौने पांच वर्ष में छह एक्सप्रेस वे बना रही है। 24 से 25 करोड़ की आबादी के लिए केवल दो एयरपोर्ट थे। आज हमने नौ एयरपोर्ट चालू कर दिए हैं, 11 एयरपोर्ट के निर्माण का काम चल रहा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश आज देश की एक बड़ी अर्थव्यवस्था के रूप में आगे बढ़ रहा है। वर्तमान राज्य सरकार के गठन के एक वर्ष के अन्दर ही प्रदेश में प्रथम इन्वेस्टर्स समिट आयोजित की गयी, जिसमें 05 लाख करोड़ रुपये  के निवेशप्रस्ताव मिले थे। इसमें , जिनमें से 03 लाख करोड़ रु0 के प्रस्ताव धरातल पर भी उतर रहे हैं। उन्होंने गरीब कल्याण योजनाओं का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि वर्ष 2017 के पहले जहां उत्तर प्रदेश इन योजनाओं के क्रियान्वयन में पीछे था, वहीं आज यह इनके क्रियान्वयन में आगे है। 


*पीएम गति शक्ति से यह होगा फायदा;*

मुख्यमंत्री ने कहा कि पी0एम0 गति शक्ति-नेशनल मास्टर प्लान फाॅर मल्टी-मोडल कनेक्टिविटी’ का उद्देश्य सम्पूर्ण अवस्थापना सुविधाओं का विकास तथा मल्टी-मोडल कनेक्टिविटी को एक प्लेटफाॅर्म पर लाकर विभिन्न योजनाओं हेतु क्लीयरेन्स प्रदान करना है।  राज्य स्तर पर ‘गति शक्ति पोर्टल’ को लाॅन्च किए जाने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा विभिन्न एजेन्सियों को आपसी समन्वय स्थापित करते हुए डाटा एकत्र करने और उसे अद्यतन किए जाने के सम्बन्ध में प्रेरित किया जा रहा है।  द्वितीय चरण में राज्य सरकार के 11 विभागों/एजेन्सियों को ‘गति शक्ति पोर्टल’ पर एकीकृत किए जाने हेतु चिन्हित किया जा रहा है। 


*एम्स का लोकार्पण व गंगा एक्सप्रेस का शिलान्यास इसी माह*


इस प्रकार वर्ष 2023 तक उत्तर प्रदेश 05 अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डों वाला, देश का प्रथम राज्य बन जाएगा। बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे का निर्माण कार्य दिसम्बर तक पूरा हो जाएगा। गंगा एक्सप्रेस-वे परियोजना का निर्माण कार्य शीघ्र प्रारम्भ कराने जा रही है। वाराणसी में भारत का पहला ‘फ्रेट विलेज’ विकसित किया जा रहा है, जो लगभग 100 एकड़ क्षेत्र में स्थापित होगा। गोरखपुर एम्स का लोकार्पण प्रधानमंत्री  द्वारा 07 दिसम्बर को प्रस्तावित है।

टिप्पणियाँ